[2022]Facilities at Dhanbad Railway station-Most Important details| धनबाद रेलवे स्टेशन की सुविधाए

Facilities at Dhanbad Railway station धनबाद झारखंड का एक प्रमुख शहर है I यह देश की कोयला राजधानी के नाम से भी प्रसिद्ध हैI यहां पर कोयले की बहुत सारी खाने उपलब्ध है। धनबाद आने के लिए  प्रमुख और सुविधाजनक स्रोत भारतीय रेल है। धनबाद नई दिल्ली हावड़ा रेल मार्ग में पड़ता है। धनबाद रेलवे स्टेशन से लगभग 100 ट्रेनें प्रतिदिन गुजरती है I और यहां लगभग 100000 से भी ज्यादा पैसेंजर प्रतिदिन आवागमन करते हैं I यह स्टेशन ईस्ट सेंट्रल जोन का प्रमुख स्टेशन है। धनबाद डिवीजन  के ईस्ट सेंट्रल जोन का मुख्यालय है । यहां से लगभग सभी प्रमुख शहरों के लिए ट्रेनों की सुविधा है। धनबाद स्टेशन मुंबई के बाद दूसरा सबसे ज्यादा रेवेन्यू अर्जित करने वाला स्टेशन है I धनबाद स्टेशन में लगभग वह सारी सुविधाएं है जो एक आधुनिक स्टेशन में होनी चाहिए।

[2022]Famous dances of Jharkhand|झारखंड के प्रमुख नृत्य- Most important details

झारखंड में प्राकृति और संस्कृति का एक अनूठा मेल आपको देखने को मिलेगा। यहां के लोगों की संस्कृति में नृत्य ने अपनी एक अलग पहचान बना रखी है। यहां के नृत्य विदेशों में भी बहुत प्रचलित है। इन नृत्यों को देखने के बाद आपको यह समझ में आएगा कि यहां के संस्कृति कैसे प्राकृति पर निर्भर है। यहां के लोगों की वेशभूषा, गायन और वाद्य यंत्र सभी में कहीं ना कहीं प्राकृति का मेल है।

[2022] Jharkhand art |झारखण्ड की प्रमुख चित्रकलाएँ-Most important details.

भारतवर्ष के पूर्वी हिस्से में बिहार के दक्षिणी तथा बंगाल के पश्चिम में अवस्थित पठारी भू- भाग झारखण्ड के नाम से जाना जाता है । पहले यह दक्षिण बिहार के नाम से जाना जाता था, किन्तु 15 नवंबर 2000 को इसे  भारत गणराज्य का 29 राज्य बना दिया गया है ।

यह राज्य खनिज संपदाओ से भरी हुई है साथ ही यह राज्य विभिन्न प्रकार की जनजातियो और उनकी परम्पराओ से भी परिपूर्ण है I यहाँ के लोग प्रकृति की पूजा करते है I यहाँ के लोगो का प्रकृति से प्यार देखते बनता है I

यहाँ की प्रमुख जनजातीय है मुंडा ,उराव,संथाल,खड़िया, करमाली इत्यादि I

कला का उद्देश्य भावनाओं, अनुभवों और विचारों को व्यक्त करना है जो भाषा की पहुंच से बाहर हैं। यह कला सौंदर्य, आनंद  एवं प्यार के  साथ न्याय गरिमा और प्रतिरोध को भी व्यक्त कर सकता है।